मुंबई टी-20 : भारत ने आखिरी मैच जीत सीरीज पर जमाया 3-0 से कब्जा

0

मुंबई, 24 दिसम्बर (आईएएनएस)| अपने बेहतरीन हरनफनमौला खेल के दम पर भारत ने रविवार को वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में श्रीलंका को पांच विकेट से हरा दिया।

इसी के साथ भारत ने तीन टी-20 मैचों की सीरीज पर 3-0 से कब्जा जमा लिया है।

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर श्रीलंकाई टीम को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया और अपने गेंदबाजों के दम पर उसे निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 135 रनों पर ही सीमित कर दिया। इस आसान से लक्ष्य को हासिल करने के लिए हालांकि मेजबान टीम को आखिरी ओवर की दूसरी गेंद तक का इंतजार करना पड़ा। भारत ने पांच विकेट खोकर लक्ष्य हासिल करते हुए श्रीलंका के जीत के साथ दौरे का अंत करने के सपने को तोड़ दिया।

भारत को हालांकि अच्छी शुरुआत नहीं मिली थी। उसने 17 के कुल स्कोर लोकेश राहुल (4) का विकेट खो दिया था। वहीं कप्तान रोहित (27) 39 के कुल स्कोर पर दासुन शनका की गेंद पर आउट हो गए थे।

युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (30) ने मनीष पांडे (32) के साथ भारतीय पारी को अच्छी तरह आगे बढ़ाया, लेकिन 81 के कुल स्कोर पर वह दुर्भाग्यवश तरीके से रन आउट हो गए।

धनंजय डी सिल्वा की गेंद को पांडे ने सीधे मारा जो धनंजय के हाथ से टकरा कर दूसरे छोर पर लगे स्टम्प में लगी। इस समय अय्यर दूसरे छोर पर क्रिज से बाहर थे और इसी कारण रन आउट हो गए। हार्दिक पांड्या सिर्फ चार रन ही बना सके।

पांडे की पारी का अंत दुशमंथा चामिरा ने एक बेहतरीन इन स्विंग गेंद से 108 के स्कोर पर किया।

यहां से मैच फंसता नजर आ रहा था, लेकिन दिनेश कार्तिक (नाबाद 18) और महेंद्र सिंह धौनी (16) ने अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए मैच भारत की झोली में डाल दिया।

इससे पहले, भारतीय गेंदबाजों ने एक बार फिर शानदार प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को बड़ा स्कोर करने से वंचित रखा।

भारत के लिए जयदेव उनादकट और पांड्या ने दो-दो विकेट लिए। वॉशिंगटन सुंदर, मोहम्मद सिराज और कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट लिया।

पहली पारी खेलने उतरी श्रीलंका को दूसरे ओवर में ही उनादकट ने निरोशन डिकवेला (1) को सिराज के हाथों कैच करा आठ के कुल स्कोर पर पहला झटका दिया। पिछले मैच में आतिशी पारी खेलने वाले कुशल परेरा (4) को अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैच खेल रहे ऑफ स्पिनर सुंदर ने अपनी ही गेंद पर कैच कर पवेलियन भेज दिया। परेरा 14 के कुल स्कोर पर आउट हुए।

चार रन बाद उपुल थरंगा (11) उनादकट की गेंद पर पांड्या के हाथों लपके गए। यहां से सदिरा समाराविक्रमा (21) ने असेला गुणारत्ने (36) के साथ पारी को संभालने की कोशिश की और कुछ हद तक कामयाब भी रहे। दोनों ने टीम का स्कोर 56 रनों तक पहुंचा दिया था, लेकिन पांड्या ने समाराविक्रमा को दिनेश कार्तिक के हाथों कैच कराते हुए इस 38 रनों की साझेदारी को तोड़ा।

दनुशका गुणाथिलका तीन रन ही बना सके और कुलदीप यादव का पहला शिकार बने। कप्तान थिसारा परेरा (11) को 85 के कुल स्कोर पर सिराज ने आउट कर अपना खाता खोला।

एक छोर पर खड़े गुणारत्ने को दासुन शनाका का साथ मिला, लेकिन कुछ देर बाद 111 के कुल स्कोर पर पांड्या की गेंद पर कुलदीप ने गुणारत्ने का कैच पकड़ उनकी पारी का अंत किया।

शनाका 20 रनों के साथ नाबाद लौटे। उनके साथ अकिला धनंजय दो रनों पर नाबाद रहे।

Comments